हरियाणा

कैथल पुलिस की फाइल से खास खबरें

झपटमारी मामले में गिरफ्तार आरोपी के कब्जे से सीआईए-2 पुलिस ने बरामद किया सैमसंग मोबाइल
रमेश तंवर, कैथल

सीआईए-टू पुलिस द्वारा अपने मकान के सामने खड़े बुजुर्ग से 3 अज्ञात बाईक सवार युवकों द्वारा मोबाईल झपटमारी करने के मामले रिमांड पर चल रहे आरोपी की निशानदेही पर उसके मकान से झपटा गया सैमसंग मोबाईल फोन बरामद कर लिया गया। आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयुक्त बाईक घटना से करीब एक सप्ताह पुर्व पेहवा चौक एचडीएफसी बैंक के नजदीक से चुराई गई थी। वारदात में लिप्त 2 अन्य आरोपियों की पुख्ता पहचान कर ली गई।
पुलिस पीआरओ ने बताया कि क्राइंम ब्रांच सैकिंड प्रभारी सबइंस्पेक्टर सत्यवान की अगुवाई में सहायक उपनिरिक्षक सत्यवान की टीम द्वारा करीब 19 वर्षीय आरोपी विनोद उर्फ बिट्टू निवासी खुराना रोड कैथल की निशानदेही पर उसके मकान से सैमसंग मोबाईल फोन बरामद किया गया है। बता दें कि एम्पलाईज कलोनी कैथल निवासी बुजूर्ग कि 8 अप्रैल की शाम करीब 8 बजे अपने मकान के सामने खडा था, जिससे अचानक बाईक पर सवार 3 युवक उसका मोबाईल फोन झपट ले गये। गिरफ्तार किए गये आरोपी से पुछताछ दौरान खुलाशा हुआ कि उसने संजू निवासी सिरटा रोड कैथल व कपिल निवासी रामथली के साथ मिलकर 2 अप्रैल को एचडीएफसी बैंक के सामने से एक बाईक चुराई तथा इसी बाईक पर मोबाईल छीनने की वारदात को अंजाम दिया गया। काबिले जिक्र है उपरोक्त आरोपी संजू व कपिल पहले ही सीआईए-टू पुलिस द्वारा बाईक चोरी के मामले में 17 अप्रैल को गिरफ्तार किए जा चुके है, जो न्यायिक हिरासत में बंद है, जिनसे झपटमारी की वारदात में प्रयुक्त बाइक की बरामदगी सहित व्यापक पुछताछ के लिए जांच में शामिल करने हेतू अदालत की मार्फत प्रोडक्शन वांरट जारी करवाया जाएगा। जिक्र करने लायक है कि गढ़ी पाडला निवासी जसबीर 2 अप्रैल को अपनी बाइक पर सवार होकर किसी कार्य के लिए पेहवा चौक के नजदीक स्थित बिजली दफ्तर में आया था, जहां एचडीएफसी बैंक के बाहर से अज्ञात व्यक्ति उसकी बाईक चुरा ले गये। गिरफ्तार किया गया आरोपी विनोद उर्फ बिट्टू 22 अप्रैल को अदालत के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
—————————
नकदी लूटने की वारदात में प्रयुक्त स्कारपियो व लूट के 25 हजार रुपये बरामद
4 मार्च को ढ़ांड से यूपी निवासी युवक का अपहरण करने उपरांत लाखों रुपये लूटने के मामले में सीआईए-1 पुलिस द्वारा रिमांड पर चल रहे आरोपी की निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त गाडी तथा 25 हजार रुपये नकदी बरामद की गई है। वारदात में लिप्त 2 अन्य आरोपी पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके है, जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। 22 अप्रैल को आरोपी अदालत में पेश कर दिया गया, जहां से उसे न्यायालय के आदेश अनुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
पुलिस पीआरओ ने  सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर महाबीर सिंह की अगुवाई में अपराध शाखा के सबइंस्पेक्टर अजीत राय व हैडकांस्टेबल तरसेम की टीम द्वारा पुलिस रिमांड पर चल रहे करीब 29 वर्षीय आरोपी अशोक निवासी सच्चा खेड़ा जिला जींद की निशानदेही पर उसके मकान से एक स्कार्पियो गाडी तथा 25 हजार रुपये नकदी बरामद की गई है। बता दें कि यूपी के गांव लुसाना निवासी रविंद्र 4 मार्च की शाम डंफर खरीदने की नीयत से अग्रसैन चौक ढ़ांड पहुंचे, जहां अचानक आई एक सफेद रंग की स्काॢपयों में सवार होकर आए अज्ञात आरोपी उसे जबरन गाडी में डालकर डालकर फरार हो गए, जिनमें से 2 युवक पुलिस वर्दी पहने हुए थे। आरोपियों द्वारा उससे मारपीट करते हुए 9 लाख रुपये नकदी सहित उसका पि_ू बैग व मोबाईल फोन छीनकर उसे नीचे फैंक फरार हो गए तो उसने गांव रसीना से घटना बारे पुलिस को सुचित किया गया। उपरोक्त मामले में सीआईए-1 पुलिस द्वारा आरोपी अशोक को गिरफ्तार कर जांच दौरान मामले में डकैती शिर्षक तहत भादसं. की धारा 395 जोड दी गई तथा आरोपी का न्यायालय से 22 अप्रैल तक पुलिस रिमांड हासिल किया गया। आरोपी के हिस्से 30 हजार रुपये नकदी आई थी, जिसमें से 5 हजार रुपये वह खर्च कर चुका था। बता दें कि घटना में प्रयुक्त की गई सफेद रंग की स्कार्पियों पर आरोपी वारदात के समय एचआर26क्यू-7242 नंबर प्लेट लगाए हुए थे, जबकि गाडी का असल नं एचआर99वाईआर (टी)3245 पाया गया है। 22 अप्रैल को आरोपी अदालत के आदेश अनुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया, जबकि वारदात दौरान पुलिस वर्दी पहनने वाले 2 आरोपियों सहित अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।
—————————-
सीआईए-1 पुलिस ने बाल आरोपी पकड़ा , 3 चोरीशुदा बाइक बरामद
सीआईए-1 पुलिस द्वारा गश्त व नाकाबंदी दौरान बगैर नं. की बाईक पर आ रहे संदिग्ध किशोर को काबु किया गया, जिसकी निशानदेही पर 3 चोरीशुदा मोटरसाईकिल बरामद की गई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर महाबीर सिंह की अगुवाई में सहायक उपनिरिक्षक जितेंद्र द्वारा 22 अप्रैल को प्रताप गेट पर नाकाबंदी दौरान पाडला बाईपास की तरफ से बगैर नं. प्लेट की बाईक पर आ रहे एक किशोर को काबु किया गया। व्यापक पुछताछ दौरान यह मोटरसाइकिल रिशु सिंगला निवासी नजदीक पोस्ट ऑफिस कैथल की पाई गई, जो 2 अप्रैल को उसके घर के सामने से चोरी हो गई थी। काबु किए गये किशोर से पुछताछ दौरान सीआईए-1 पुलिस के एएसआई रमेश कुमार आरोपी की निशानदेही पर जखौली निवासी राजीव कुमार की 5 अप्रैल को जवाहर पार्क से चोरीशुदा बाईक बरामद की गई। व्यापक जांच दौरान अपराध शाखा के हैडकांस्टेबल नरेश कुमार द्वारा उपरोक्त बाल आरोपी की निशानदेही पर मलिकपुर निवासी जयभगवान की 12 अप्रैल को नीमसाहब गुरुद्वारा कैथल के आगे से चुराई गई मोटरसाईकिल भी बरामद कर ली। पुछताछ दौरान किशोर ने कबुला कि वह गलत संगत कारण नशे का आदी हो गया, जिस कारण उसने सातवीं कक्षा पास करके पढाई छोड दी। बचपन से ही उसे बाईक चलाने का शौक था, परंतु घरवालों ने उसको मोटरसाईकिल नहीं दिलवाई, तो उसने बाईक चोरी करनी शुरु कर दी। उक्त बाल आरोपी पहले भी चोरी के मामलों में बाल सुधार गृह अंबाला जा चुका है, जिसे व्यापक जांच उपरांत नियमानुसार कार्रवाई दौरान रिलीज कर दिया गया।
———————-
बुलेट के साइलैंसर से पटाखे बजाने वालों की अब खैर नही, साइलेंसर मोडीफाई करने वाले मैकेनिकों पर भी होगा मामला दर्ज
बुलेट बाईक के साइलेंसर करे मोडीफाई कर विभिन्न सडको व कलोनियों में पटाखे बजाने वाले वाहन चालको की अब खैर नही है। इस प्रकार की मोटरसाईकिल नियमानुसार सख्त कार्रवाई दौरान जब्त की जाएगी, तथा साइलेंसर को मोडिफाई करने वाले मैकेनिक व दुकानदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। शहर में बगैर नं. प्लेट के चल रहे थ्रीव्हिलर व बाइकों को जब्त किया जाएगा। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एसपी आस्था मोदी के आदेशानुसार थाना प्रबधंक यातायात सबइंस्पेक्टर मंदीप कुमार सहित जिला के सभी एसएचओ के निशाने पर अब पटाखे बजाने वाली बुलेट बाइक होगी, जिनके चालक काफी दिनों से बार-बार हिदायत देने उपरांत बाज नहीं आ रहे थे। एक्शन मोड में आए ट्रैफिक एसएचओ मंदीप कुमार सबइंस्पेटर ने इस प्रकार की बाईक चालक तथा उनके अभिभावको को सचेत किया है कि कुछ युवक विभिन्न कलोनियों में बुलेट बाईक पर साईलेंसर से पटाखे बजाते है। कुछ युवको ने अपनी मोटरसाईकिल पर तेज हॉर्न लगाए हुए है, जिस कारण आमजन व कलोनी वासी अचानक भयभीत हो जाते है, तथा अक्समात दुर्घटना का खतरा बना रहता है। नियमानुसार कार्रवाई दौरान इस प्रकार की मोटरसाइकिलों को जब्त किया जाएगा, वहीं दूसरी बार ऐसा किए जाने पर चालक को जेल की हवा भी खानी पड सकती है। पुलिस द्वारा अब साइलेंसर को मोडिफाई करने वाले मैकेनिक व दुकानदारों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। शहर में बगैर नं. प्लेट के चल रहे थ्रीव्हिलर व बाइकों को पुलिस द्वारा जब्त किया जाएगा। काबिले जिक्र है कि माननीय उच्च न्यायालय द्वारा इस सबंध में चंडीगढ पुलिस को पहले ही कडी फटकार लगाई जा चुकी है, तथा इस कडी में कैथल पुलिस इस प्रकार के दुपहिया व तिपहिया वाहन चालकों के खिलाफ कडी कार्रवाई अमल में लाएगी।
————————–
क्रिकेट सट्टेबाज गिरोह के 4 सदस्य काबू, 2 फरार
सीआईए-टू पुलिस द्वारा रात्री करीब 9:30 बजे एक मकान के अंदर रेड मारते हुए क्रिकेट सट्टा बुकिज गिरोह का भांडाफोड करने में सफलता हासिल की गई। पुलिस द्वारा मौका से 4 आरोपी काबु करते हुए डब्बा मोबाईल सहित 6 मोबाईल फोन व 5500 रुपये नकदी बरामद की गई, जबकि 2 आरोपी मौका से फरार हो गए, जिनकी पुख्ता पहचान कर ली गई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एसपी आस्था मोदी के निर्देशानुसार आईपीएल के चलते हुए क्राईम ब्रांच द्वारा क्रिकेट सट्टा बुकिग करने वाले असामाजिक तत्वों पर निरंतर पैनी नजर रखी जा रही थी। सीआईए-टू प्रभारी सबइंस्पेक्टर सत्यवान की अगुवाई में गश्त रही सहायक उपनिरिक्षक सत्यवान सिंह की टीम को सहयोगी सुत्रों से गुप्त जानकारी मिली, कि गली नं. 3 अर्जुन नगर कैथल स्थित जसवीर उर्फ जस्सविंद्र के मकान में क्रिकेट सट्टा बुकिज दिल्ली डेयरडैविल्स व रॉयल चैजेजर बैगंलोर के मध्य चल रहे आईपीएल 20-20 क्रिकेट मैच दौरान ऑन लाईन सट्टा बुकिंग कर रहे है। पुलिस द्वारा मुस्तैदी  व तत्परता का परिचय देते हुए तहसीलदार रविंद्र मलिक से मिलकर नियमानुसार कार्रवाई दौरान मकान का सर्च वांरट हासिल किया गया। पुलिस द्वारा मकान के नजदीक पहुंचकर आड लेते हुए पुर्व नियोजित कार्रवाई अंतर्गत बुकिज के पास सीआईए-टू पुलिस के हैडकांंस्टेबल प्रदीप कुमार को बोगस ग्राहक तैयार करते हुए चिन्हित किए गये 100 के पांच नोट देकर 16वें ओवर दौरान कम से कम 10 रन अवश्य बनने पर दांव लगाने के लिए भेजा गया। बोगस ग्राहक की सट्टा बुकिंग होते ही हवलदार प्रदीप द्वारा विशेष संकेत दिया गया, तो पुलिस द्वारा मकान के नीचले कमरे में दबिश दी गई। पुलिस द्वारा आरोपी जसवीर उफ जसविंद्र (मकान मालिक), राकेश उर्फ रॉकी प्रिंस उर्फ हैप्पी व राजकुमार उर्फ राजू सभी निवासी अर्जुन नगर कैथल को काबु कर लिया गया, जबकि दो आरोपी मौका से फरार होने में कामयाब हो गये, जिनकी पहचान गौरव कुमार उर्पग् बल्लू निवासी खरादिया मुहल्ला व शम्मी निवासी निवासी अर्जुन नगर कैथल के रुप में कर ली गई। मौका पर पहुंचे सीआईए-1 पुलिस के हैडकांस्टेबल कमलजीत सिंह द्वारा जांच दौरान आरोपियों के कब्जा से डब्बा मोबाईल सहित 6 मोबाईल फोन व एचसी प्रदीप द्वारा दिए गए सौ-सौ रुपये के 5 चिहिंत नोटो सहित 55 सौ रुपये नकदी बरामद की गई है। पुलिस द्वारा आरोपियों से आगामी पूछताछ की जा रही है।
————————–
नाबालिगा को शादी का झांसा देकर दुराचार मामले के दोषी को आजीवन कारावास  
अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायधीश कैथल डा. आर.एन. भारती की अदालत द्वारा एक दोषी को अनुसुचित वर्ग की नाबालिगा को फुसलाकर भगाते हुए दुराचार मामले में आजीवन कारवास व 7500 रुपये जुर्माना का सजायाब किया गया है। पुलिस पीआरओ ने बताया कि थाना महिला पुलिस की सबइंस्पेक्टर दर्शना देवी की टीम द्वारा दिनांक 21 अक्टूबर 2016 को आरोपी हरीशपाल उर्फ छोटू बिहारी निवासी उपरौला जिला बदायूं उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया। बता दें कि थाना पुंडरी अंतर्गत क्षेत्र के एक गांव से करीब 14 वर्षीय नाबालिगा को बहका-फुसला का शादी करने का झांसा देते हुए भगा ले जाने के आरोप में दिनांक 17 अक्टूबर को थाना पुंडरी में मामला दर्ज किया गया था। पुलिस द्वारा नियमानुसार कार्रवाई दौरान नाबालिगा के माननीय न्यायालय के समक्ष ब्यान कलमबद्ध करवाने उपरांत जांच के दौरान अभियोग में भादसं. की धारा 376 सहित अन्य धाराए जोड़ दी गई तथा व्यापक अनुसंधान के बाद अभियोग न्यायालय के सुपुर्द कर दिया गया। उपरोक्त मामले में अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायधीश कैथल डा. आर.एन. भारती की अदालत द्वारा 21 अप्रैल को फैसला सुनाते हुए दोषी हरीशपाल को भादसं. की धारा 363 तहत 3 वर्र्ष कारावास व 500 रुपये जुर्माना, भादसं. की धारा 366 तहत 5 वर्ष कारावास व एक हजार रुपये जुर्माना, भादसं. की धारा 376 तहत 10 वर्ष कारावास व एक हजार रुपये जुर्माना तथा 3 एससी एसटी एक्ट तहत उम्रकैद व 5 हजार रुपये जुर्माना का सजायाब किया गया है। जुर्माना अदा न करने की सूरत में दोषी को अतिरिक्त कारावास भुगतना पड़ेगा।

Facebook Comments

प्रिय पाठकों,
इंडिया टाइम 24 डॉट कॉम www.indiatime24.com निष्पक्ष एवं निर्भीक पत्रकारिता की दिशा में एक प्रयास है. इस प्रयास में हमें आपके सहयोग की जरूरत है ताकि आर्थिक कारणों की वजह से हमारी टीम के कदम न डगमगाएं. आपके द्वारा की गई एक रुपए की मदद भी हमारे लिए महत्वपूर्ण है. अत: आपसे निवेदन है कि अपनी सामर्थ्य के अनुसार नीचे दिए गए बैंक एकाउंट नंबर पर सहायता राशि जमा कराएं और बाजार वादी युग में पत्रकारिता को जिंदा रखने में हमारी मदद करें. आपके द्वारा की गई मदद हमारी टीम का हौसला बढ़ाएगी.

Name - neearj Kumar Sisaudiya
Sbi a/c number (एसबीआई एकाउंट नंबर) : 30735286162
Branch - Tanakpur Uttarakhand
Ifsc code (आईएफएससी कोड) -SBIN0001872

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *