पंजाब

रोहन सहगल ने डूबने से बचा लिए निगम के 250 करोड़ : राजविंदर राजा

नीरज सिसौदिया, जालंधर
आर्थिक संकट से जूझ रहे नगर निगम को कांग्रेस पार्षद रोहन सहगल ने संजीवनी दी है. रोहन सहगल की सूझबूझ से आज निगम के लगभग 250 करोड़ रुपए बर्बाद होने से बच गए. अगर रोहन सहगल ने तत्परता नहीं दिखाई होती तो आज नगर निगम में एलईडी लाइटों का 274 करोड़ का प्रोजेक्ट परवान चढ़ चुका होता और अकाली भाजपा गठबंधन के नेताओं के चहेते ठेकेदार निगम को करोड़ों रुपए की चपत लगा चुके होते. लेकिन रोहन सहगल ने तत्परता दिखाई और जिस प्रोजेक्ट पर नगर निगम पहले 274 करोड़ रुपए खर्च करने जा रहा था वह अब सिर्फ 45 करोड़ में पूरा होने जा रहा है. ऐसा करके रोहन सहगल ने एक मिसाल कायम की है. दूसरे नेताओं को भी रोहन सहगल से सीख लेनी चाहिये. उक्त बातें वार्ड नंबर 58 के पार्षद राजविंदर सिंह राजा ने इंडिया टाइम 24 से खास बातचीत के दौरान कहीं.

राजविंदर सिंह राजा, पार्षद
राजा ने बताया कि अकाली भाजपा गठबंधन के कार्यकाल के दौरान 65 हजार एलईडी लाइटें लगाने के लिए 274 करोड़ रुपए का बजट आवंटित कर दिया था. इस प्रोजेक्ट के तहत घटिया क्वालिटी की स्ट्रीट लाइट्स लगाई जा रही थीं. लेकिन रोहन सहगल ने इस पूरे घोटाले का पर्दाफ़ाश कर दिया था. जिसके बाद मामला सुर्खियों में आया और निगम के करोड़ों रुपए डूबने से बच गए. स्ट्रीट लाइट कमेटी के सदस्य राजा ने बताया कि चारों विधायकों ने रोहन सहगल के इस कदम की सराहना की है. उन्होंने कहा कि स्ट्रीट लाइट कमेटी का सदस्य होने के नाते वह पूरा प्रयास करेंगे कि जल्द से जल्द यह प्रोजेक्ट पूरा हो और सारा शहर रोशनी से जगमगाने लगे. उन्होंने निगम के करोड़ों रुपए बचाने के लिए रोहन सहगल का आभार जताया है.

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *