देश

शब्द से ही मनुष्य की पहचान होती है

हर शब्द कुछ बोलता कुछ सहता है। हर शब्द में कोई भाव छिपा रहता है।। हर शब्द मानो कोई सजीव जीव हो। हर शब्द कोई इक़ कहानी कहता है।। शब्द से ही लगाव और विश्वास होता है। हर शब्द अलग और ही खास होता है।। शब्द की महिमा का संसार अपरम्पार। शब्द से ही पूजा […]

देश

भारत महान लिखूं या विश्व में बढ़ता हिंदुस्तान लिखूं

हिन्द देश का गौरव गान लिखूँ। या ये अतुल्य भारत महान लिखूँ।। अनुपम उदाहरण है मेरा यह देश। कितनी इसकी आन शान लिखूँ।। योग मुद्रा ज्ञान ध्यान लिखूँ। अनगिनत भाषा परिधान लिखूँ।। विविधता में एकता मंत्र देश का। सोने की चिड़िया हिंदुस्तान लिखूँ।। गीता रामायण तुलसी रसखान लिखूँ। विश्व गुरु भारत की पहचान लिखूँ।। लिखूँ […]

देश

वही जीतता पूजा जिसने कर्म की करी होती है…

झूठ कुछ समय का बस एक छलावा है। फिर हो जाता झूठ का मुँह काला है।। सच की हार होगी यह है एक भुलावा बस। विधि विधान कि झूठ के मुंह लगता ताला है।। शमशान का हिसाब बड़ा ही नेक है। यहाँ अमीर गरीब का बिस्तर एक है।। जुबान खराब होना अहम की पहली निशानी। […]

विचार

नेता का यही गुण है…

*।।रचना शीर्षक।।* कभी शोला कभी शबनम नेता का यही गुण है। सुबह प्रसाद रात में रम नेता का यही गुण है।। कथनी करनी के अंतर का उदाहरण है नेता। पैसे की बरसात झमाझम नेता का यही गुण है।। कभी नरम और कभी गरम नेता का यही गुण है। कब क्यों कैसे आँखें नम नेता का […]

विचार

तराशने के बाद ही हीरे से मुलाकात होती है

मत आंकों किसी को कम कि सबमें कुछ बात होती है। भीतर छिपी प्रतिभा की अनमोल सौगात होती है।। जरूरत उसे पहचानने और फिर निखारने की। तराशने के बाद ही हीरे से मुलाकात होती है।। हर किसी में कुछ बेहतर हो ही सकता है। भीतर हमारे भी कमतर कुछ हो सकता है।। यह सोच कर […]

विचार

आँसू कोई मामूली चीज़ नहीं, कोई अनकही दास्तान हों जैसे

आँसू तो मानो जैसे अनकहा बयान हैं। खुशी गम का मानो तो जमीं आसमान हैं।। आँसू मोती हैं लफ्ज़ हैं और हैं दर्द भी। बहते मानो पीछे लिये जैसे दास्तान हैं।। आँसू वो शब्द हैं जिन्हें कागज़ कलम मिल न सका। यह वो सैलाब जो दिल के भीतर सिल न सका।। दर्द और खुशी का […]

विचार

जीतना जरूरी है, सीने में अगन और बस मन में लगन होनी चाहिये…

हालात चाहे कितने खराब हों, पर रोया नहीं करते। कभी भी जोश और होश को, यूँ ही खोया नहीं करते।। ईश्वर भी सहयोग करते हैं, कर्मशील व्यक्ति को। जबअवसर दरवाजा खटखटाये, तब सोया नहीं करते।। होना है सफल तो आदमी में, बेइंतिहा लगन होनी चाहिये। दिल दिमाग आत्मा तक भी, काम में मगन होनी चाहिये।। […]

विचार

हमारा अमर भारत महान, गणतंत्र दिवस पर करते शत शत प्रणाम।।

आज विश्व के गौरव हम, सबसे बड़ा है लोकतंत्र। हमारा संविधान ही सूत्र, माला में बांधें है गणतंत्र।। विभिन्न धर्मभाषा विविधता, में एकता है मन्त्र हमारा। आज आत्म निर्भर भारत, महान कहलाता है ये तंत्र।। नमन है उन शहीदों को जो, देश पर कुरबान हो गए। वतन के लिए देकर जान, वो बे जुबान हो […]

विचार

हिम्मत से हारना पर हिम्मत कभी मत हारना

जिन्दगी रोज़ इक नया इम्तिहान लेती है। दो परीक्षा तो सफल परिणाम देती है।। परिश्रम का ईनाम यहां मिलता है जरूर। जीत कर आयो तो जमीं आसमान देती है।। अतीत को बदलना नहीं कल सुधार करना है। बीते की चिंता नहीं आगे की पुकार करना है।। परलोक सुधारने का यत्न होता है व्यर्थ। इसी लोक […]

विचार

हर जन मानस न हो सुरक्षित, वो सुखी संसार नहीं होता

बिन मेहनत के दौलत का कोई हकदार नहीं होता। लेकर न चले साथ सब को वो सरदार नहीं होता।। बिना काबलियत के ताज न मिले किसी को। जो निकल पड़े मांगने को वो खुद्दार नहीं होता।। जो टिक न पाये वायदे पर वो असरदार नहीं है। जो काम न आये किसी के वो रसूखदार नहीं […]