विचार

राख में भी चिंगारी ढूंढ लायो, यही जीत की रीत है…

हालात खराब हों तो जरा समझदारी दिखलाइये। राह में हों पत्थर तो जरा आप जोरदारी लगाइये।। पर हार हो सामने तो भी हार को मानना नहीं। कोशिश करके राख में से चिंगारी ढूंढ लाइये।। डूबते को तिनका भी किनारा बन जाता है। तेरी सोच से ही जीत का सहारा बन जाता है।। कपड़ों में नहीं […]

विचार

दिल हमेशा दिल से ही जीता जाता है

हर हाल में जीवन की यह जंग हमें जीतनी है। जान लो कि जिंदगी दुःख सुख के संग रीतनी है।। रंग बेरंग हर ढंग मिलता है इस एक जीवन में। यही हो कोशिश न होकर तंग उम्र ये बीतनी है।। यही हो कोशिश हमारी कि जुबां पर मीठे बोल रहें। हों ऐसे कर्म कि जिन्दगी […]

यूपी

तन उजला मन मैला, यह कैसी गलत सफाई है

तन उजला मन मैला यह कैसी करी सफाई है। काहे इतनी कलुष भावना पानी में आग लगाई है।। मैं को त्यागो चलो बस मिल कर हम की ओर। हर दिल को जीतने की बस यही एक दवाई है।। अपने कर्मों का नित प्रति दिन स्वाकलन करते रहो। सद्भावना के साथ थोड़ा झुककर सदा चलते रहो।। […]

यूपी

कहीं तेरी कहानी अनकही न रह जाये

देख लेना कहीं अनकही तेरी अपनी कहानी न रहे। रुकी सी बीते जिन्दगी में कोई रवानी न रहे।। जमीन और भाग्य जो बोया वही निकलता है। अपने स्वार्थ के आगे किसी और पे मेहरबानी न रहे।। दुखा कर दिल किसी का कभी कोई सुख पा नहीं सकता। कपट विद्या से किसी का कभी दुःख भी […]

विचार

मत हारो जीवन से कि यह जिन्दगी अनमोल है

जो हराता है अंधकार को वही फिर सूरज बनता है। अपने अच्छे कर्मों से पूजी जाये वो मूरत बनता है।। परिश्रम जिनकी आदत हो सफलता बनती है तकदीर। हर व्यक्ति की चाहत फिर वह ऐसी सूरत बनता है।। कठनाई इक रुई थैले जैसी भारी मजलूम होती है। अगर उठा कर देखो तो फिर हल्की मालूम […]

विचार

बड़े शहर, पत्थर के दिल होते हैं जो धड़कते नहीं हैं

बड़ी अजीब सी बड़े शहरों की रोशनी होती है। दिन खूब हंसता पर रात बहुत रोती है।। उजालों में भी चेहरे यहां पहचाने नहीं जाते। सच सिसकता और झुठलाई नींद चैन की सोती है।। आदमी भटकता रहता है यहां कंक्रीट के जंगलों में। संवेदना सुप्त रहती है यहां सबकी धड़कनों में।। फायदे नुकसान के गणित […]

यूपी

उम्मीद रखें जिंदा तो हर राह आसान होती है

झूला जितना पीछे जाता उतना फिर आगे आता है। सुख दुःख भी वैसा ही बस आता जाता है।। सुख और दुःख दोंनों का महत्व जीवन में बराबर। दुःख जाता तो धैर्य,विवेक सुख,शांति ही लाता है।। मत डरिये कि ईश्वर ने सब को हीरे सा ही बनाया है। वही लेकर आता उजाला जब खुद को चमकाया […]

विचार

मिट्टी का बदन और सांसें उधार की हैं

मिट्टी का बदन और सांसें बस उधार की हैं। जाने घमंड किस चीज़ का बात विचार की है।। आदमी बस इक किरायेदार मेहमान कुछ दिन का। नहीं उसकी हैसियत यहां पर जमींदार की है।। जिन्दगी हमें हर मोड़ पर रोज़ आज़माती है। कुछ नई रोज़ हमें बतलाती और सिखलाती है।। सुनते नहीं हम बात अंतरात्मा […]